CM शिवराज चौहान ने दिए संकेत, MP में पत्थरबाजों पर नकेल कसने को बन सकता है कानून

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों के साथ बैठक में पत्थरबाजों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैंण् माना जा रहा है कि शिवराज सरकार पत्थरबाजों के खिलाफ कानून बना सकती है. 

CM शिवराज चौहान ने दिए संकेत, MP में पत्थरबाजों पर नकेल कसने को बन सकता है कानून

भोपालः पिछले दिनों उज्जैन, इंदौर, नीमच और मंदसौर में हुई पत्थरबाजी की घटनाओं पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान काफी गंभीर नजर आ रहे हैं. सूत्रों का दावा है कि राज्य सरकार पत्थरबाजों पर नकेल कसने के लिए कानून बना सकती है. मंत्रालय में अफसरों के साथ हुई नए साल  की पहली बैठक में इस बात की पत्थरबाजी की घटनाओं का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कानून बनाने के संकेत भी दिए हैं.

पत्थरबाजों पर हो कड़ी कार्रवाईः मुख्यमंत्री शिवराज
बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि पत्थरबाजों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई और कानून होना बेहद जरूरी है. कई बार पत्थरबाजी में जान जाने का भी खतरा रहता है. इसलिए इस तरह के काम करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए. सीएम ने कहा कि प्रदेश में शांति हर कीमत पर जरूरी है, जो गड़बड़ करेगा उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा.

प्रदेश के कई जिलों में कुछ दिन पहले हुई थी पत्थरबाजी
आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही इंदौर, उज्जैन, नीमच और मंदसौर में पत्थरबाजी की घटनाएं सामने आई थीं और साम्प्रदायिक तनाव की स्थिति बनी थी. सरकार ने इन घटनाओं को गंभीरता से लिया है. उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक में स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि इस तरह की घटनाओं को अंजाम देने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए. कोई प्रदेश की शांति व्यवस्था बिगड़ाने की कोशिश करे इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे.

पत्थरबाजों के खिलाफ बनाया जा सकता है कानून
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से चर्चा के दौरान इस बात संकेत दिए हैं कि प्रदेश में पत्थरबाजों के खिलाफ कानून बनाया जा सकता है. हालांकि इस तरह का कोई औपचारिक ऐलान तो नहीं किया गया, लेकिन सीएम शिवराज सिंह चौहान ने जिस तरह से पत्थरबाजों पर नकेल कसने के लिए कानून की आवश्कता पर बल दिया है, उससे संकेत मिल रहे हैं कि राज्य सरकार जल्द ही इस दिशा में कोई पहल कर सकती है.

ः 

WATCH LIVE TV

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Prachand.in. Publisher: Zee News